31 दिसंबर से कुछ UPI ID बंद हो जाएंगे, लेकिन क्यों और कौन से?

UPI-IDs will-be closed but-why : 31 दिसंबर को कई UPI आईडी बंद हो सकते हैं, ये बात सही है, लेकिन इससे कई सवाल भी उठ रहे हैं। वाकई में, ऐसा क्यों हो रहा है और कैसे बचा जा सकता है, ये सब जानकारी हमें साझा करनी चाहिए।

UPI-IDs will-be closed but-why

31 दिसंबर को कई UPI आईडी बंद हो सकते हैं। नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने गूगल पे, पेटीएम और फोन पे जैसे कई UPI अकाउंट्स को बंद करने का निर्देश दिया है। शायद आपने यह खबर सुनी हो। इस खबर में सच्चाई है, लेकिन इससे कई सवाल भी उठ रहे हैं। जैसे, क्या सभी के UPI ID बंद होंगे? ये सब क्यों हो रहा है और बचाव क्या हो सकता है। हमें लगता है कि हमें इन सभी विवरणों को साझा करना चाहिए।

यह भी पढ़ेंविराट कोहली ने वर्ल्ड कप के इतिहास में नंबर 1 का मुकाम हासिल किया, सचिन सहित चार बल्लेबाजों का रिकॉर्ड तोड़ा

31 दिसंबर से कौन से आईडी बंद होंगे?

NPCI के सर्कुलर के अनुसार, उन UPI आईडीज़ को 31 दिसंबर 2023 से बंद किया जाएगा, जो एक साल से एक्टिवेट नहीं हैं। अर्थात, अगर आपने अपनी किसी UPI ID से एक साल से भी लेन-देन नहीं किया है, तो वह 31 दिसंबर के बाद बंद कर दी जाएगी। तो अगर आपने पिछले एक साल में एक बार भी UPI से पेमेंट किया है या आपको UPI से पैसा मिला है, तो चिंता नहीं करनी चाहिए, मस्ती करो।

यह भी पढ़ेंकुत्तों के काटने पर मुआवजा मिलेगा, हर दांत के निशान पर 10 हजार रुपये, हाईकोर्ट का निर्देश

आईडी बंद करने की ज़रूरी वजह UPI-IDs will-be closed but-why

एनपीसीआई के सर्कुलर के मुताबिक, यूजर सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हुए 1 साल से इस्तेमाल ना होने वाली UPI आईडी को बंद करने का निर्देश दिया गया है। बहुत बार यूजर्स अपने पुराने नंबर को डिलिंक किए बिना नई आईडी बना लेते हैं, जो फ्रॉड की संभावना बढ़ा सकती है। कई बार एक से ज्यादा आईडी होने के कारण भी कुछ अकाउंट पर कोई लेन-देन नहीं हो पाता है। इसी वजह से एनपीसीआई ने पुरानी आईडी को बंद करने का निर्देश जारी किया है।

बचने के लिए क्या करना चाहिए?

बस यही करना होगा कि जिस आईडी से लेन-देन नहीं हुआ हो, उससे कोई भी एक पेमेंट कर देनी चाहिए। कितना भी राशि और कहीं भी। चाहे वो QR कोड से हो या फिर नॉर्मल UPI पेमेंट ट्रांसफर से, हर तरह का लेन-देन काम चल जाएगा। यदि इसे भूल जाते हैं तो भी टेंशन नहीं लेनी चाहिए। जैसे आपने पहले अपने नंबर से UPI रजिस्टर किया था, वैसे ही अब भी कर पाएंगे।

हाँ, यहाँ एक जरूरी बात है। जैसे ही यह खबर सार्वजनिक होती है, साइबर ठग भी सक्रिय हो जाते हैं। आईडी चालू रखने का बहाना बना कर ठगी का धंधा शुरू हो जाता है। ऐसे ठगों से सतर्क रहें। UPI आईडी बंद होने से आपके अकाउंट को कोई नुकसान नहीं होगा। यदि कोई समस्या हो, तो बैंक जाकर बात करें।